Sarson tel totke:सरसों तेल से मंगलवार के दिन करें यह छोटा सा टोटका,पैसों से भर जाएगी आपकी तिजोरी

सरसों तेल को ज्योतिष शास्त्र में बहुत ही ज्यादा शुभ माना गया है। सरसों तेल से किए गए कुछ उपाय आपकी किस्मत को बदल सकते हैं। शनि देव और भगवान मंगल को प्रसन्न करने के लिए आप इसके कुछ टोटके कर सकते हैं।

Sarson tel totke: सरसों के तेल को ज्योतिष शास्त्र में कई तरह के उपाय किए जाते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि देव और गुरुदेव दोनों से जोड़कर सरसों तेल को देखा जाता है। कहा जाता है कि कई ग्रहों की दशा को सुधारने में सरसों तेल का काफी महत्व होता है। अगर आपकी कुंडली में किसी भी तरह की परेशानी आ रही है या फिर कोई अशुभ काम हो रहा है तो सरसों का तेल आपको इन सभी चीजों से छुटकारा दिलाएगी।

Sarson tel totke:  सरसों तेल से करें मालिश

वास्तु शास्त्र के अनुसार अगर किसी के कुंडली में शनि देव अशुभ स्थिति में है तो आपको रोजाना सरसों तेल से शरीर की मालिश करनी चाहिए और जितना हो सके खाना सरसों तेल में बनाना चाहिए। यह उपाय शनि देव के अशुभ प्रभाव को दूर कर देगा।

सरसों के तेल में मिलाए हल्दी

वास्तु शास्त्र के नियम के अनुसार अगर किसी की कुंडली में गुरु अशुभ स्थिति में हो तो गुरुवार के दिन सरसों के तेल में हल्दी डालकर असहाय लोगों को दान करने चाहिए। यही नहीं इसके अलावा सर पर सरसों तेल का मालिश करना चाहिए ऐसा करने से जिंदगी में खुशी आती है।

आधी रात को सरसों तेल से करें यह काम

ज्योतिष शास्त्र के नियम के अनुसार शनि देव को खुश करना चाहते हैं तो आधी रात में पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों तेल का दिया जलाना चाहिए। ऐसा करने से शनि देव प्रसन्न होते हैं और आपकी जिंदगी में आने वाली परेशानियों को दूर करते हैं।

Also Read:Vastu Tips:घर के मुख्य द्वार पर भूलकर भी ना रखें यह चीजे,वरना जिंदगी भर कंगाली नहीं छोड़ेगी पीछा

ज्योतिष शास्त्र के नियम के अनुसार रविवार के दिन नहाते समय पानी में दो बूंद सरसों का तेल डालना चाहिए। ऐसा करने से धन लाभ के नए रास्ते खोलते हैं और व्यापार में सफलता मिलती है साथ ही नौकरी में भी प्रमोशन का योग बनता है। अगर आपके कार्य में किसी भी तरह की बाधा आ रही है तो आपको शनिवार के दिन आधी रात को जाकर पीपल के पेड़ के नीचे जरूर दिया जलाना चाहिए।

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करें Twitter , Kooapp और YouTube  पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरे

- Advertisement -
- Advertisement -