Dehydration causes Pimples : पानी की कमी से होते हैं पिंपल, सर्दियों में हो जाता है डिहाइडरेशन

Dehydration causes Pimples : सर्दियों में लोग पानी कम पीते हैं। या कुछ लोग तो सर्दियों में पानी न के बराबर ही पीते हैं। जिससे शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है और आप डिहाइडरेशन का शिकार हो जाते हो।

Dehydration causes Pimples : पानी तो हम सभी लोग पीते हैं लेकिन ज्यादातर लोग शरीर की जरूरत के अनुसार पानी नहीं पीते हैं। केवल गला सूखने पर ही पानी पीते हैं। यही कारण है कि आज काफ़ी लोग डिहाइडरेशन का शिकार हो रहें हैं।  डिहाइडरेशन का अर्थ शरीर में पानी की कमी से है। खासतौर पर सर्दी के मौसम में डिहाइड्रेशन के मरीजों की संख्या ज्यादा बढ़ जाती है। अब आप सोच रहे होंगे कि सर्दी के मौसम में पानी की कमी कैसे हो सकती है। आइए जानते हैं सर्दियों में पानी का लेवल क्यों कम हो जाता है।

शरीर में पानी है आवश्यक

चिकित्सा विज्ञान के अनुसार, हमारे शरीर का 30 प्रतिशत हिस्सा तरल है और बाकी 70 प्रतिशत में अस्थि और मज्जा शामिल है। यही वजह है कि जल को जीवन की संज्ञा दी गई है। क्योंकि मनुष्य बिना भोजन के कुछ समय रह सकता है, लेकिन बिना पानी के रहना असंभव होता है। यानी जल के बिना जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती है। इसलिए सर्दी हो या गर्मी हर मौसम में पानी की मात्रा बराबर होनी चाहिए।

सर्दियों में ज्यादा होती है पानी की कमी

लोग आमतौर पर गर्मियों के मौसम में पानी अधिक पीते हैं, जिससे शरीर में पानी की मात्रा स्थिर रहती है। जबकि सर्दियों में तापमान निम्न होने के कारण प्यास का अनुभव कम होता है। इसलिए सर्दियों में लोग पानी कम पीते हैं। या कुछ लोग तो सर्दियों में पानी न के बराबर ही पीते हैं। जिससे शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है और आप डिहाइडरेशन का शिकार हो जाते हो। कई बार तो डिहाइडरेशन एक गंभीर बीमारी का रूप भी ले लेती है।

डिहाइडरेशन से आते हैं मुंहासे

निर्जलित त्वचा को अक्सर शुष्क त्वचा समझ लिया जाता है और निर्जलित त्वचा तैलीय भी हो सकती है, जो विरोधाभासी लगता है। दुर्भाग्य से, निर्जलित त्वचा के उपचार की उपेक्षा करने से मुँहासे, जलन, सूखे धब्बे, सुस्ती और बहुत कुछ हो सकता है।

डिहाइडरेशन के लक्षण

आपके शरीर में पानी की कमी हो रही है ये जानना बेहद जरूरी है। शरीर में पानी की कमी होने से आपको निम्न लक्षण दिखाई देंगे, जिससे आप डिहाइडरेशन का पता लगा सकते हैं…

सीने में हल्की जलन होना

शरीर में पानी की कमी के कारण सीने पर हल्की जलन, पेट में एसिडिटी या असहजता हो सकती है। साथ ही मुंह से सांसों के साथ लगातार दुर्गंध आती है। ब्रश करने के बाद भी आप सांसों की दुर्गंध फील कर पाते हैं।

पीले रंग का पेशाब आना

जब शरीर में पानी की कमी होती है तो पेशाब गाढ़े पीले रंग का आता है। इसके साथ मात्रा में सामान्य से कम होता है और पेशाब के बाद प्राइवेट पार्ट में जलन या खुजली की समस्या हो सकती है।
त्वचा रूखी और झुर्रियां आना 
डिहाइड्रेशन से जूझ रहे लोगों के शरीर की त्वचा भी बहुत रूखी और बेजान नजर आती है। जो लोग लंबे समय से पानी की कमी से जूझ रहे होते हैं, उनकी त्वचा पर कम उम्र में ही झुर्रियां नजर आने लगती हैं।
चेहरा पर कालापन होना 
पानी की कमी से मांसपेशियों में दर्द, ऐंठन और जकड़न की समस्या हो सकती है। इसके साथ ही सिर में लगातार दर्द बना रहता है। इस कारण रोगी का चेहरा मुर्झाया हुआ और तेजहीन लगता है।

आंखों में डार्क सर्कल होना

जो लोग शरीर की जरूरत के अनुसार पानी नहीं पीते हैं, उनकी आंखों के नीचे काले घेरे साफ देखे जा सकते हैं। इन लोगों की आंखें अंदर धसने लगती हैं और इन्हें हर समय कमजोरी का अहसास बना रह सकता है।

हर वक्त थकावट महसूस होना

पानी कम पिएंगे तो व्यक्ति को थकान, तनाव, उलझन आदि की समस्याएं महसूस होंगी। शरीर में मौजूद टॉक्सिन पदार्थ बाहर नहीं निकल पाते हैं, जिससे कई अंगों पर नेगेटिव असर हो सकता है। हानिकारक पदार्थ शरीर में जमा होते रहेंगे तो किडनी को भी भारी नुकसान होगा। पर्याप्त पानी के बिना, आपके शरीर की कार्य प्रणाली प्रभावित हो सकती है।

डिहाइड्रेशन के अन्य सामान्य लक्षण

  1. प्यास
  2. पसीना आना कम होना
  3. त्वचा की तन्यता कम होना
  4. मूत्र कम बनना
  5. मुंह सूखना

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करें Twitter , Kooapp और YouTube  पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरे

- Advertisement -