Basant Panchami Remedies: बसंत पंचमी के दिन पीले रंग का वस्त्र क्यों पहना जाता है? जानें

Basant Panchami Remedies: हिंदू कैलेंडर के अनुसार इस साल बसंत पंचमी का त्योहार 14 फरवरी को मनाया जाएगा। कला और संगीत के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए यह दिन बेहद खास है....

Basant Panchami Remedies: हिंदू कैलेंडर के अनुसार इस साल बसंत पंचमी का त्योहार 14 फरवरी को मनाया जाएगा। कला और संगीत के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए यह दिन बेहद खास है। बसंत पंचमी का दिन वाणी और ज्ञान की देवी मां सरस्वती को समर्पित है। विद्यार्थियों के लिए भी बसंत पंचमी की पूजा बहुत शुभ मानी जाती है।

माना जाता है कि इस दिन देवी सरस्वती की विधिपूर्वक पूजा करना और कुछ ज्योतिषीय उपाय करना विद्यार्थियों के लिए बहुत लाभकारी साबित होता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, बसंत पंचमी के दिन पीले रंग के कपड़े पहनकर पूजा करना शुभ माना जाता है।

Basant Panchami Remedies: बसंत पंचमी पर पीला रंग क्यों पहनते हैं?

धर्म शास्त्रों के अनुसार बसंत पंचमी के दिन पीले रंग के कपड़े पहनने के पीछे कई मान्यताएं हैं। पीला रंग भगवान सूर्य देव को समर्पित है। जिस प्रकार सूर्य की किरणें अंधकार को नष्ट कर देती हैं, उसी प्रकार पीला रंग मनुष्य के हृदय में रहने वाली बुरी भावनाओं को नष्ट कर देता है। इसलिए इस दिन पीला रंग पहनना बहुत शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़े:- Basant Panchami Upay: बसंत पंचमी के दिन सुबह में करें यह काम, लें बुद्धि और सफलता का आशीर्वाद

  • शास्त्रों के अनुसार पीला रंग ज्ञान और बुद्धि का प्रतीक है। यह रंग सुख, शांति, अध्ययन, एकाग्रता और मानसिक बौद्धिक प्रगति का प्रतीक माना जाता है।
  • कहा जाता है कि पीला रंग उत्तेजित करता है। इतना ही नहीं यह रंग ज्ञान के प्रति रुझान पैदा करता है। व्यक्ति के मन में नये-नये विचार उत्पन्न होते हैं। इसलिए बसंत पंचमी के दिन पीला रंग पहनना शुभ माना जाता है।
  • आपको बता दें कि भगवान विष्णु का पसंदीदा वस्त्र भी पीला है जो अनंत ज्ञान का प्रतीक है। इसके अलावा भगवान श्री गणेश की धोती भी पीली है और सभी शुभ कार्यों में पीले रंग की धोती पहनना शुभ माना जाता है।

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करें Twitter , Kooapp और YouTube  पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरे

- Advertisement -
- Advertisement -