Chandra Grahan 2023: साल का पहला चंद्र ग्रहण आज, जानें लगने का समय और सूतक काल

Chandra Grahan 2023: आज साल का पहला चंद्र ग्रहण है और यह एक उपछाया चंद्र ग्रहण होगा। इस ग्रहण का सूतक काल माना नहीं जाएगा, तो चलिए बताते हैं, इस दिन का सूतक काल का क्या समय है, चलिए जानते हैं...

Chandra Grahan 2023: आज साल का पहला चंद्र ग्रहण है और यह एक उपछाया चंद्र ग्रहण होगा। इस ग्रहण का सूतक काल माना नहीं जाएगा। वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि पर लगने वाले इस चंद्र ग्रहण पर 130 वर्षों बाद दुर्लभ संयोग बन रहा है और ऐसा संयोग 130 साल बाद बुद्ध पूर्णिमा और चंद्र ग्रहण दोनों का बेहद खास संयोग बनने जा रहा है।

Happy Buddha Purnima 2023 Wishes: बुद्ध पूर्णिमा पर सुख, समृद्धि, शांति के ये बधाई संदेश भेजकर दें शुभकामनाएं

Lunar Eclipse 2023 in india Date and Time

आज साल का पहला चंद्र ग्रहण है, इस साल सूर्य ग्रहण के बाद अब ये ग्रहण लग रहा हैं। वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि को लगने जा रहा है। साल का यह पहला चंद्र ग्रहण है। 15 दिनों के अंतराल पर यह साल 2023 का दूसरा ग्रहण होगा। इसके पहले 20 अप्रैल को साल का पहला सूर्य ग्रहण लगा था। इस ग्रहण को भारत में नहीं देखा जा सका था।

भारत में चंद्र ग्रहण

आपको बता दें कि साल का पहला चंद्र ग्रहण यूरोप, एशिया के ज्यादातर, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, प्रशांत, अटलांटिक,अंटार्कटिका और हिंद महासागर में दिखाई देगा। जहां तक भारत में इस चंद्र ग्रहण के दिखाई देने का मामला है तो ज्यादातर खगोल शास्त्र के जानकारों और हिंदू पंचांग की गणनाओं के आधार पर यह चंद्र ग्रहण भारत के ज्यादातर जगहों में ये नहीं था।

कब शुरू होगा ग्रहण

भारतीय समय के अनुसार 5 मई को रात 8 बजकर 44 मिनट से शुरू होकर आधी रात को यानी 1 बजकर 1 मिनट तक चलता रहेगा। ग्रहण का  रात 10 बजकर 52 मिनट पर होगा।

सूतक काल

12 घंटे पहले ही सूर्य ग्रहण से सूतक शुरू हो जाता है जबकि चंद्र ग्रहण होने पर 9 घंटे पहले सूतक शुरू हो जाता है। बता दें कि सूतक काल में किसी भी तरह का शुभ काम और पूजा-पाठ नहीं होता है। सूतक के बाद आप किसी भी शुभ काम को कर सकते हैं।

अब देश-दुनिया की तमाम खबरें हिंदी में (Hindi News) पढ़ने के लिए vidhannews.in को फॉलो करें।

- Advertisement -