Chandra Grahan 2023 : भारत में कब दिखेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण?

Chandra Grahan 2023 : साल 2023 का पहला चंद्र ग्रहण जल्द ही लगने वाला है। ज्योतिष में ग्रहण को एक अशुभ क्रिया के रूप में वर्णित किया गया है। आइए जानते हैं कब लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण और ग्रहण के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

साल 2023 का पहला चंद्र ग्रहण जल्द ही लगने वाला है। ज्योतिष की दृष्टि से ग्रहण को अशुभ घटना माना जाता है। ग्रहण के दौरान कई चीजों की मनाही होती है। वैज्ञानिक रूप से जब सूर्य और चंद्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है तो चंद्र ग्रहण लगता है क्योंकि पृथ्वी की छाया चंद्रमा पर पड़ती है। चंद्र ग्रहण तब होता है जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा एक रेखा में और एक ही तल में होते हैं। वहीं ज्योतिष शास्त्र में जब सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण होता है तो उसे सूतक काल माना जाता है। सूतक के दौरान कोई भी धार्मिक कार्य और शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं। आइए जानते हैं कब है इस साल का पहला चंद्र ग्रहण।

यह भी पढ़े :- Buddha Purnima 2023: साल का पहला चंद्र ग्रहण लगने पर बुद्ध पूर्णिमा पर बनेगा 130 साल बाद बना ये महासंयोग

चंद्र ग्रहण का समय और सूतक काल

साल का पहला चंद्र ग्रहण बुद्ध पूर्णिमा के दिन यानी 5 मई 2023 को लगेगा। छायाकल्प चंद्र ग्रहण 5 मई को लगेगा। यानी चूंकि पृथ्वी की छाया चंद्रमा के एक तरफ ही है, इसलिए यह ग्रहण हर जगह नहीं दिखेगा। यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। चंद्र ग्रहण यूरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, अंटार्कटिका, प्रशांत अटलांटिक और हिंद महासागर में दिखाई देगा। चंद्र ग्रहण रात 8 बजकर 46 मिनट से शुरू होगा और 1 बजे तक रहेगा। छायाकल्प चंद्र ग्रहण के कारण सूतक काल मान्य नहीं होगा।

Chandra Grahan 2023 : यह चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई देगा

इस साल भारत में दिखाई देने वाला पहला और आखिरी चंद्र ग्रहण 28 अक्टूबर की रात को लगेगा। यह चंद्र ग्रहण भारत के कई हिस्सों में दिखाई देगा। यह भारत, ऑस्ट्रेलिया, उत्तर दक्षिण अफ्रीका, आर्कटिक, अंटार्कटिका, प्रशांत, अटलांटिक और हिंद महासागर सहित एशिया के कई देशों में दिखाई देगा।

यह भी पढ़े :- Shukrawar Ke Upay : शुक्रवार इन उपायों से भरी रहेगी तिजोरी

चंद्र ग्रहण के दौरान खाना बनाना और खाना दोनों ही वर्जित होता है। चंद्र ग्रहण के दौरान कोई पूजा नहीं करनी चाहिए। साथ ही मंदिर में भगवान को ढकना चाहिए या फिर मंदिर के दरवाजे को ढक कर रखना चाहिए। चंद्र ग्रहण के दौरान सोना नहीं चाहिए। जितना हो सके भगवान का जाप करते रहें। ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को बाहर नहीं निकलना चाहिए। साथ ही गर्भवती महिलाओं को इस समय चाकू और कैंची के प्रयोग से बचना चाहिए। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि इस दौरान पौधों को न छुएं।

 

(तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करेंTwitter , Kooapp और YouTube  पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरें।)

- Advertisement -