Economic : कभी थे एक दूसरे से जुड़े, अलग होने के बाद पाकिस्तान क्यों रह गया भारत से अर्थव्यवस्था में पीछे !

Why is Pakistan’s economic condition is backward from India’s economic condition even after getting independence a day before-

कैसे हैं भारत पाकिस्तान एक दूसरे से जुड़े –

पाकिस्तान कहने को तो भारत का पड़ोसी है मगर एक समय ऐसा भी था की पाकिस्तान भारत का ही क़िस्सा हुआ करता था । अंग्रेज़ो भारत छोड़ कर तो गये मगर अपने आने का एक पक्का सबूत भी भी छोड़ गये। जाते-जाते एक देश को धर्म के नाम पर बाँट कर चले गये , इसके कही ना कही , कई लोगों की सहमती थी। अंग्रीज़ो ने भारत और पाकिस्तान ड़ो मुल्क बना दिए । पाकिस्तान का कुछ हिस्सा बादमे जाकर बंग्लादेश कहलाने लगा जो काफ़ी समय से खुद को पाकिस्तान से बिल्कुल अलग मानता है ।
अब कहने को तो पाकिस्तान को भारत से एक दिन पहले आज़ादी मिली थी । जी हाँ ! पाकिस्तान 14 अगस्त 1947 को अपनी आज़ादी के रूप मई मनाता है वही भारत 15 अगस्त 1947 को अपनी आज़ादी मनाता है।

पहले आज़ाद होने के बाद भी क्यूँ है पाकिस्तानी अर्थव्यव्य्स्था भारत से पीछे-

Pakistan Inflation
Pakistan Inflation

।. आर्थिक तंगी के कारण-

॰ 2022 में अचानक महँगाई का बढ़ने के कारण पाकिस्तान को काफ़ी नुक़सान हुआ। पाकिस्तान में 29 प्रतिशत बढ़ने के कारण लोगों एवं सरकार को काफ़ी नुकासान का सामना करना पड़ा।
॰ दूसरे देशों से लिए क़र्ज़ में डूबने के कारण पाकिस्तान और दाशो के सामने पाकिस्तान को एक गरीब देश माना ज़ाया जा रहा है।
० पुराना क़र्ज़ उतारने के लिए क़र्ज़ पे क़र्ज़ लेने के कारण क़र्ज़ के जाल में खुद फसाने के बाद अब उससे निकलने का पाकिस्तान को कोई उपाय दिख नहीं रहा है ।
० नॉर्मल खाने पीने की चीजों पर 56% तक की महँगायी बढ़ा दी गयी है जिससे जनता को हद से ज़्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।
० आतंकवादी हमलों के कारण जो नुक़सान पाकिस्तान का हुआ है शायद ही कभी वो चुका पाए।

ना सिर्फ़ आर्थिक तंगी बल्कि कुछ प्राकर्तिक बलाओं के कारण पाकिस्तान खुद को आगे नहीं बढ़ा पा रहा है।

Pakistan In Economic Crisis
Pakistan In Economic Crisis

2. प्राकर्तिक परेशानियाँ-
० लगातार आने वाली प्राकर्तिक आपदाओं के कारण पाकिस्तान और ज़्यादा हालत से बेकार होता जा रहा है ।
० 2022 में आयी बाढ़ ने पाकिस्तान को हिला के रख दिया था । जिसका पाकिस्तान पर काफ़ी गहरा सदमा लगा था।

भारत पाकिस्तान से ज़मीन में भी ज़्यादा है और लोगों की जनसंख्या में भी लेकिन इन्ही कारणों की वज़ह से पाकिस्तान से आगे बढ़ता जा रहा है ।

 

(यह आर्टिकल विधान न्यूज के साथ इंटर्न कर रहीं कशिश नगर ने तैयार किया है।)

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करें Twitter , Kooapp और YouTube पर फॉलो करें  Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरें।

- Advertisement -
- Advertisement -