क्या होगा रूस और भारत के बीच के Free-Trade अग्रीमेंट का नतीज़ा

रूस और भारत के बीच हुआ Free-trade अग्रीमेंट- हाल ही में रूस के उप-प्रधानमंत्री डेनिस मेंटूरोव भारत में दो दिन के लिए आए थे । यह वे उन्होंने भारत के फ़ॉरेन मिनिस्टर एस जयशंकर से मुलाक़ात की थी। इस मुलाक़ात के बाद, नई दिल्ली में हुए एक इवेंट में एस जयशंकर ने बताया कि उनके और डेनिस मेंटूरोव के बीच रूस और भारत के बीच निवेश ( इन्वेस्टमेंट ) की गारेंटी के लिए मुक्त व्यापार के समझोते पर चर्चा हुई । इससे दोनो देश काफ़ी मुनाफ़ा कमाएँगे।

India-Russia free-trade agreement
India-Russia free-trade agreement

क्या हैं पूरा समझोता?

जयशंकर के अनुसार मेंटूरोव इस कमिशन में उप गद्दी संभालेंगे। यह चोबीसवा भारत-रूस अंतर-सरकारी कमिशन मेट्टिंग थी । इस समझोते में व्यापार, आर्थिक, वैज्ञानिक, तकनीकी और सांस्कृतिक सहयोग पर ख़ास ध्यान देने पर दोनो पक्षों ने हाँमी भरी हैं।

कबसे था यह एग्रीमेंट?

जयशंकर ने बताया की भारत पहले से ही इस समझोते को मान चुका था। यह समझोत रूस और भारत के बीच पहले कई सालो से चला आरहा था। दोनो के मुताबिक़ यह कमिश्न मई 1992 में साइन हुई थी। दी गयी जानकारी के मुताबिक़ इसकी पहली मीटिंग 13-14 सितम्बर को हुई थी।

मेंटूरोव और जयशंकर की इस मीटिंग से पहले आख़िरी समझोता 14 सितम्बर 2018 को मॉस्को में हुआ था।

रूस और भारत का क्या होगा इस समझोते से फ़ायदा ?

India-Russia free-trade agreement
India-Russia free-trade agreement

रूस के उप-प्रधानमंत्री व भारत के फ़ोरन मिनिस्टर के इस समझोते से भारत और रूस दोनो देशों को भारी मात्रा में मुनाफ़ा होगा ।जानकारी के मुताबिक़ इस डील में देश के व्यापार, आर्थिक, वैज्ञानिक, तकनीकी और सांस्कृतिक सहयोग आदि मुद्दे को ख़ासतौर पर रेखांकित किया गया हैं।
इस समझोते के बाद डोनो देशों में इंपोर्ट व इक्स्पॉर्ट बहुत आसानी से किया जाएगा ,जिससे दोनो देशों के बीच सम्बन्ध और मज़बूत होंगे व दोनो देशों की आर्थिक व व्यापारिक स्थति और मज़बूत होगी। भारत जैसे डिवेलपिंग देश के लिए यह अपनी अर्थव्यवस्था बढ़ाने का स्वर्ण काफ़ी अच्छा हो सकता हैं ।

भारत – रूस के बीच किस ख़ास पदार्थ पर हैं ज़िक्र ?

बताया जा रहा हैं कि दोनो देशों के बीच व्यापार संबंधो के बीच एक बिल्कुल नए सीरी और नई शुरुआत से सम्बन्ध बनने के लिए यह समझोत किया जा रहा हैं ख़ासकर नई दिल्ली द्वारा रूस से कच्चे तेल की ख़रीददारी को लेकर ।

 

(यह खबर विधान न्यूज में इंटर्न कर रहीं कशिश नागर ने तैयार किया है।) 

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करें Twitter , Kooapp और YouTube पर फॉलो करें  Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरें।

- Advertisement -
- Advertisement -