Mohammed Shami Viral Video: इंजेक्शन लिया, 2 घंटे तक किया बेहोश; डॉक्टर ने कहा, क्रिकेट भूल जाओ! शमी ने आपबीती बताई

Mohammed Shami Viral Video: मोहम्मद शमी ने वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 24 विकेट लिए। दिलचस्प बात ये है कि शमी को पहले 4 मैचों में मौका नहीं मिला...

Mohammed Shami Viral Video: डॉक्टरों ने मुझे क्रिकेट छोड़ने की सलाह दी। उन्होंने कहा था कि अगर आप पैदल चलने भी लगें तो बहुत ज्यादा है। लेकिन मैंने लड़ने का फैसला किया। शमी ने अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुए कहा कि वह हालात से दो-दो हाथ करके मैदान पर लौटे थे।

मैं दो घंटे तक बेहोश रहा था। उस वक्त डॉक्टरों ने मुझे क्रिकेट छोड़ने की सलाह दी थी, तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अपने जीवन के चुनौतीपूर्ण दौर पर टिप्पणी की। मेरे करियर में एक ऐसा दौर भी आया था जब डॉक्टरों ने मुझे क्रिकेट न खेलने की सलाह दी थी। शमी ने कहा, उस वक्त मुझे लगातार इंजेक्शन लेने पड़ते थे।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by PUMA India (@pumaindia)

Mohammed Shami Viral Video: मोहम्मद शमी ने वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 24 विकेट लिए। दिलचस्प बात ये है कि शमी को पहले 4 मैचों में मौका नहीं मिला। पंड्या के चोटिल होने के बाद उन्हें टीम में जगह मिली। शमी ने मौके का फायदा उठाया और 7 मैचों में 24 बल्लेबाजों को आउट किया। लेकिन फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम बैकफुट पर चली गई। ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 6 विकेट से हरा दिया। इन सबके बीच शमी ने एक इंटरव्यू में अपने जीवन की घटनाओं पर टिप्पणी की।

यह भी पढ़े:-  IND vs AUS Final :विराट कोहली को फाइनल से पहले मिला स्पेशल गिफ्ट

“2015 विश्व कप से पहले, मेरे घुटने में सूजन थी। मेरा आखिरी विकल्प सर्जरी था। मैंने सर्जरी नहीं करायी। मैंने क्रिकेट खेलना जारी रखा। हर मैच के बाद टीम के खिलाड़ी होटल जाते थे और मैं अस्पताल जाता था। मैंने दर्द सहा और खेलना जारी रखा। हम इंजेक्शन लेकर मैदान में उतरते थे। मेरे पास दो विकल्प थे। शमी ने कहा, ”मैंने आराम करने के बजाय देश के लिए खेलने का फैसला किया।”

‘फिर मेरे घुटने की सर्जरी हुई। इसके बाद डॉक्टर ने मुझसे कहा, अगर तुम आराम से चल सको तो यही काफी है। क्रिकेट खेलना बहुत समय पहले की बात है। मैं दो घंटे तक बेहोश रहा। जब मुझे होश आया तो मैंने डॉक्टर से एक ही सवाल पूछा कि मैं दोबारा कब खेल पाऊंगा? इसके बाद मैंने अपना पूरा ध्यान अपनी सेहत सुधारने पर लगा दिया।’ डॉक्टर ने कहा, तुम कभी क्रिकेट नहीं खेल पाओगे। शमी ने अपने संघर्ष के बारे में कहा, ‘लेकिन मैंने कड़ी मेहनत की और वापसी की।’

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करें Twitter , Kooapp और YouTube पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबर।

- Advertisement -