MI के इस स्टार बल्लेबाज ने लिया संन्यास, कभी MS Dhoni से होती थी तुलना

Saurabh Tiwary: टीम इंडिया के लिए 3 वनडे खेलने वाले सौरभ तिवारी ने 12 फरवरी 2024 को संन्यास का ऐलान कर दिया है. उन्होंने प्रोफेशल क्रिकेट को अलविदा कहा जा है. इस खिलाड़ी की तुलना पूर्व कप्तान एमएस धोनी से की जाती थी. वो धोनी की तरह आते ही छा गए थे. वह धोनी की तरह ही लंबे-लंबे बाल रखते थे. पिछले कुछ समय से वो घुटने की इंजरी से परेशान थे, लिहाजा उन्होंने संन्यास का ऐलान कर दिया. ये खिलाड़ी आईपीएल में मुंबई इंडियंस समेत कई टीमों के लिए खेल चुका है.

16 फरवरी को खेलेंगे आखिरी मैच

सौरभ झारखंड से आते हैं. वो फिलहाल अपनी घरेलू टीम झारखंड के लिए रणजी ट्रॉफी 2024 खेल रहे रहैं. 16 फरवरी को राजस्थान के खिलाफ होने वाले मैच उनके करियर का आखिरी मुकाबला होगा. वो 11 साल की उम्र से क्रिकेट खेल रहे हैं. खास बात ये है कि सौरभ तिवारी ने सिर्फ 17 साल की उम्र में अपना पहला प्रथम श्रेणी मैच खेल लिया था.

अंडर-19 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य रहे

साल 2006-07 रणजी ट्रॉफी सीजन में दम दिखाने के बाद वह 2008 में विराट कोहली की कप्तानी में मलयेशिया में अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का भी अहम हिस्सा थे. इसके बाद सौरभ ने आईपीएल में दम दिखाया, लेकिन बार-बार चोटिल होने के चलते सौरभ का करियर ज्यादा नहीं चला.

आईपीएल 2010 में दिखाया था जलवा

अंडर-19 वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद सौरभ तिवारी को आईपीएल में मुंबई इंडियंस ने अपने साथ जोड़ा था. उन्हें पहले सीजन कम मौके मिले, लेकिन आईपीएल 2010 का सीजन उनके लिए शानदार रहा. उन्होंने टूर्नामेंट में 419 रन ठोके. इसके बाद एशिया कप के लिए उन्हें टीम इंडिया से बुलावा आया, लेकिन प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने के लिए अक्टूबर तक इंतजार करना पड़ा.

3 मैच खेले

सौरभ ने टीम इंडिया के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विशाखापट्टनम वनडे इंटरनेशनल डेब्यू किया, जहां 17 गेंद में 12 रन की नाबाद पारी खेली. उन्होंने सुरेश रैना के साथ मिलकर भारत को जीत दिलाई थी. उन्होंने करियर में 3 वनडे खेले. सिर्फ दो में ही बल्लेबाजी का मौका मिला और दोनों ही बार वह नॉटआउट लौटे. इसके बाद फिर कभी भारतीय टीम में नहीं चुने गए.

धोनी से तुलना होती थी, लेकिन वो मुकाम नहीं मिला

सौरभ तिवारी ने घरेलू क्रिकेट में बढ़िया खेला. वे बेहद प्रतिभाशाली थे. 17 साल में उन्होंने 115 प्रथम श्रेणी मैच खेले और झारखंड के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए. वर्तमान में उनके नाम 189 पारियों में 47.51 की औसत से 8030 रन हैं, जिसमें 22 शतक और 34 अर्द्धशतक शामिल हैं, वहीं एमएस धोनी के 131 मैचों में 7038 धोनी की ही तरह सौरभ तिवारी अपनी लंबी लहराती जुल्फों के लिए मशहूर थे, उन्हें झारखंड का छोटा धोनी कहा जाता था. लेकिन क्रिकेट में उन्हें धोनी के जैसी सफलता नहीं मिल सकी.

- Advertisement -