Wrestlers Protest : पहलवानों के हक में बोले पंजाब के खेल मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर

Wrestlers Protest : पंजाब के खेल मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर दिल्ली में धरना दे रहे पहलवानों के हक में उतर आए हैं। उन्होंने कहा कि देश शर्मिंदा है कि आज दुनिया में भारत का नाम चमकाने वाले पहलवान इंसाफ के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। मीत हेयर ने कहा कि पॉक्सो एक्ट लगने के बावजूद कुश्ती फेडरेशन के अध्यक्ष की गिरफ्तारी नहीं हो रही है।

केंद्र की मोदी सरकार एक तरफ बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ और बेटी को खिलाड़ी बनाओ का नारा बुलंद करती है। वहीं दूसरी तरफ यौन शोषण मामले में देश के नामी पहलवानों को कोर्ट की शरण लेनी पड़ रही है। कुश्ती संघ का अध्यक्ष इतना पावरफुल है कि पूरी भाजपा और केंद्र सरकार उस पर एक्शन लेने से कतरा रही है।

बृजभूषण पर दर्ज हैं 40 मामले

मीत हेयर ने कहा कि बड़ी हैरानी की बात है कि अपने आप को बहुत ही साफ छवि करार देने वाली भाजपा ने बृजभूषण शरण सिंह जैसे व्यक्ति को टिकट देकर सांसद बनाया, जिस पर 40 मामले दर्ज हैं। इतना ही नहीं, उसे आगे भारतीय कुश्ती महासंघ अध्यक्ष भी बना दिया। उन्होंने भाजपा को महिला विरोधी बताया।

Wrestlers Protest

बृजभूषण पार्टी में इतना पावरफुल है कि पहले उन्होंने जांच कमेटी की रिपोर्ट ही प्रभावित कर दी। पॉक्सो एक्ट में तुरंत गिरफ्तारी होती है, उसमें अभी तक उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया। भाजपा को तुरंत उन्हें पार्टी से बर्खास्त कर गिरफ्तार करवाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : पहलवानों के सपोर्ट में बोले ओलंपिक पदक विजेता Neeraj Chopra

खेल मंत्री का कहना, प्रधानमंत्री मोदी अपनी चुप्पी तोड़ें

खेल मंत्री ने कहा कि देश के नामी पहलवान यौन शोषण के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पड़ोस में धरना लगाकर बैठे हैं, लेकिन अभी तक उन्होंने इस पर एक बार कोई शब्द नहीं बोला। मीत हेयर ने कहा कि वह अपने खास लोगों चाहे वह नीरव मोदी से लेकर अडाणी हों या फिर अब कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण, वह किसी पर कोई टिप्पणी नहीं करते।

मीत हेयर ने कहा कि मन की बात के 100 एपिसोड होने पर जो उनका विशेष एपिसोड आ रहा है, उसमें ही वह अपनी चुप्पी तोड़ दें और कुछ बोल दें। यदि बोलना नहीं है तो चुपचाप कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण पर कार्रवाई ही करवा दें। उन्होंने भाजपा के अध्यक्ष नड्डा से भी मांग की है कि पार्टी ऐसे नेता पर एक्शन लें।

 

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करेंTwitter , Kooapp और YouTube  पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरें।)

- Advertisement -
- Advertisement -