Laddu Gopal Puja : ये नियम जान लेंगे तो आपसे लड्डू गोपालजी रहेंगे सदा प्रसन्‍न

Laddu Gopal Pooja : भगवान कृष्‍ण के बाल रूप लड्डू गोपालजी को घर में रखना चाहते हैं तो पहले जान लें ये नियम।

Laddu Gopal Puja :  हिंदू धर्म में भगवान कृष्‍ण का एक विशेष स्‍थान है। लड्डू गोपाल कृष्‍ण का बाल रूप है। कई घरों में इनको विशेष स्‍थान मिलता है। इनकी विधिवत पूजा हेाती है। उनकी सेवा ठीक उसी प्रकार से की जाती है जैसे कोई अपने नवजात शिशु को पाल-पोसकर बड़ा कर रहा हो।

माना जाता है कि प्रत्येक जन्माष्टमी पर लड्डू गोपाल जी (Laddu Gopal Puja) की पूजा धूम-धाम से होती है, किन्तु आपके घर में जिस भगवान आते हैं, उस दिन को उनका जन्‍म दिवस मान लें। यदि आपको वह तिथि पता है जिस दिन लड्डू गोपाल जी ने घर में प्रवेश किया तो उस तिथि को लड्डू गोपाल जी के जन्म दिन के रूप में मान कर प्रति वर्ष उस तिथि में उनका जन्म दिन अवश्य मनाएं। और भी हैं कुछ नियम जो आपको ध्‍यान रखना है। यदि आपके घर लड्डू गोपालजी विराजते हैं तो जरूरी है कि आप कुछ विशेष नियमों का पालन करना करें। जानें इन नियमों के बारे में…

आपका घर अब उनका घर

जब भी आपने यह मन बनाया कि लड्डू गोपाल को अपने घर लाना है, उसी दिन से यह भी मान लें कि अब आपका घर लड्डू गोपाल का हो गया। वास्‍तव में वे आपके परिवार के सदस्‍य के रूप में विराजते हैं। आप उन्‍हें पूरे सम्‍मान से अपने घर में स्‍थान प्रदान करें। इस लिहाज से आपके परिवार के सदस्यों की आवश्यक्‍ताओं के अनुसार ही लड्डू गोपालजी (Laddu Gopal Pooja)  की सभी चीजों का भी ख्‍याल रखना चाहिए।

भाव के भूखे भगवान

यह जान लें कि आपके विशेष सदस्‍य यानी लड्डू गोपालजी किसी विशेष आंडबर पूर्ण व्‍यवहार या तामझाम के नहीं बल्कि प्रेम के भूखे हैं। आप उन्‍हें निश्‍छल प्रेम देंगे तो वे आपके पूरी तरह हो जाएंगे। याद रखें कि भगवान बस भाव के भूखे होते हैं। जितना प्रेम, जितना भाव अर्पित करेंगे वे आपके उतने ही हो जाएंगे।

मौसम अनुसार स्‍नान कराएं

रोजाना सुबह अपने लड्डू जी को स्नान अवश्य कराएं। बस इस बात विशेष ध्‍यान  रहे कि जिस प्रकार घर का कोई सदस्य सर्दी में गर्म पानी व गर्मी में ठंडे पानी से स्नान करता है, उसी प्रकार से लड्डू गोपालजी (Laddu Gopal) के स्नान के लिए मौसम के अनुसार पानी का चयन करें। उन्‍हें स्नान के बाद प्रतिदिन धुले स्वस्छ वस्त्र पहनाएं।

भोजन का ध्‍यान

जिस प्रकार हम सबको भूख लगती है उसी प्रकार लड्डू गोपालजी को भी भूख लगती है, यह मन में धारणा बनाएं। इसी हिसाब से उनके भोजन का ध्यान रखें। भोजन के अतिरिक्त, सुबह का नाश्ता और शाम के चाय नाश्ते आदि का भी ध्यान रखना चाहिए। घर में कोई भी खाने की वस्तु आए तो लड्डू गोपालजी का हिस्सा भी उसमें अवश्य होना चाहिए।

वस्‍त्र हो मौसम अनुकूल

हर मौसम में हम अलग अलग तरह के कपड़े पहनते हैं। आपको हर मौसम में यानी सर्दी में और गर्मी में उनके कपड़े का चुनाव करना चाहिए। यह भी बता दें कि लड्डू गोपालजी (Laddu Gopal) को खिलौने बहुत प्रिय हैं। इसलिए उनके लिए खिलौने अवश्य लेकर आएं। साथ ही आप उनके साथ आप खेलें। समय-समय पर लड्डू गोपालजी को बाहर घुमाने भी अवश्य लेकर जाएं।

कोई नाता जोड़ लें

हमारा परिवार के सभी सदस्‍यों का आपस में एक-दूसरे से कोई रिश्‍ता होता है। वैसे ही लड्डू गोपालजी से भी कोई नाता बना लें। जैसे किसी मित्र का या फिर भाई का या फिर कोई और रिश्‍ता भी बना सकते हैं। अपने लड्डू गोपाल जी को कोई प्यारा सा नाम अवश्य दें।

न छोड़ें अकेला 

जैसे बाल गोपाल घर के सबसे छोटे सदस्य माने जाते हैं, वैसे ही ये आपके घर के बाल गोपाल हैं। आपको किसी नन्हे बालक को उनको घर में रखना है। इसीलिए उनका ख्याल भी आपको ठीक वैसा ही रखना होगा, जैसे घर के छोटे बच्चे का रखा जाता है। इस तरह से देखें तो आपको घर में बाल गोपाल को कभी अकेला न छोड़ना है। अगर आप लंबे समय के लिए कहीं जा रहे हैं, तो उन्हें साथ लेकर जाएं। अगर संभव ना हो तो पड़ोसी या रिश्तेदार को घर की चाभी और लड्डू गोपाल की जिम्मेदारी देकर जाएं।

तमाम खबरों के लिए हमें Facebook पर लाइक करेंTwitter , Kooapp और YouTube  पर फॉलो करें। Vidhan News पर विस्तार से पढ़ें ताजा-तरीन खबरें।

- Advertisement -